Hindi kahani- रिटर्न गिफ्ट. Return gift best story in Hindi for kids

शालू का जन्मदिन आया तो उसने लोगों को रिटर्न गिफ्ट देने के लिए जो सोचा, वह गिफ्ट पर्यावरण की नजर से बहुत सही था। आखिर उसके दिमाग में यह आइडिया आया कैसे और यह नायाब गिफ्ट क्या था?
Hindi kahani- रिटर्न गिफ्ट. Return gift best story in Hindi for kids. Best Moral Stories In Hindi For Class 1 to 8 Hindi Motivated Always
Return gift

शालू, तुम्हें इस बार जन्मदिन पर क्या चाहिए?' मम्मी ने शालू के सिर पर हाथ फेरते हुए पूछा।
'मम्मा, अभी तो कुछ सोचा नहीं।' शालू बोली।
'अच्छा रिटर्न गिफ्ट के बारे में कुछ सोचा क्या?
' मम्मी ने फिर से पूछा।
'नहीं मम्मा, वो भी नहीं सोचा अभी तक ' शालू ने जवाब दिया।
'कोई बात नहीं, कुछ सोचो तो बताना।' मम्मी ने कहा। 'जी मम्मा।' शालू मुस्कुराती हुई बोली।

शालू सातवीं कक्षा में पढ़ती है। वह बहुत ही समझदार है। घर और स्कूल, सब जगह लोग उसे पसंद करते हैं। कुछ दिन बाद उसका जन्मदिन आने वाला है। मम्मी-पापा उसके जन्मदिन की तैयारी उसके साथ मिलकर करते हैं ताकि उसे अच्छा लगे। हालांकि उन्हें शालू पर पूरा भरोसा रहता है, क्योंकि वो हर काम समझदारी से करती है। शालू को देश-दुनिया के बारे में जानकारी हासिल करने का बड़ा शौक है। इसलिए उसकी मम्मी ने उसे न्यूजपेपर पढ़ने की आदत डाल दी है।

Hindi moral Stories for Kids. Hindi Alphabets Poems & Songs.

सुबह के समय तो शालू पेपर नहीं पढ़ पाती पर जब वह स्कूल से वापस आती है तो न्यूजपेपर जरूर पढ़ती है। कोई चीज अगर उसे समझ में नहीं आती तो मम्मी से पूछती है या फिर गूगल में ढूंढ़ती है। उसके दोस्त उसे गूगल कहकर बुलाते हैं, क्योंकि जो किसी को नहीं आता, अकसर उसका जबाव शालू के पास होता।

एक दिन शालू ने न्यूजपेपर में पढ़ा कि सरकार सिंगल-यूज प्लास्टिक पर बैन लगाने जा रही है। उसने मम्मी से
पूछा, 'मम्मी, यह सिंगल यूज प्लास्टिक क्या होती है?'
मम्मी ने बताया, 'सिंगल यूज प्लास्टिक एक ऐसा प्लास्टिक है, जिसका उपयोग हम केवल एक बार करते हैं। हम लोग इसे डिस्पोजेबल प्लास्टिक भी कहते हैं।'

'लेकिन मम्मी इसे बैन क्यों किया जा रहा है? शालू ने फिर सवाल किया। 'सिंगल यूज प्लास्टिक मिट्टी में नहीं घुलता-मिलता है, करीब 7.5 प्रतिशत की ही रीसाइक्लिंग हो पाती है। बाकी प्लास्टिक मिट्टी में मिल जाती है, जो पानी की सहायता से समुद्र में पहुंचता है और वहां के जीवों को काफी नुकसान पहुंचाता है।

Best Moral Stories In Hindi For Class 1 to 8 Hindi Motivated Always.

अधिकांश प्लास्टिक कुछ समय में टूटकर जहरीले रसायन भी छोड़ते हैं। यह रसायन पानी और खाद्य सामग्रियों के द्वारा हमारे शरीर में पहुंचते हैं और काफी नुकसान पहुंचाते हैं।' मम्मी ने उसे समझाया। 'तो क्या पार्टियों में हम जो प्लेट, चम्मच, गिलास उपयोग में
लाते हैं, वो भी सिंगल यूज प्लास्टिक है?' शाल ने पूछा।
'हां, बिल्कुल। मैं तो किचन से सारे प्लास्टिक के डिब्बों को निकालने की सोच रही हूं।

उनकी जगह कांच के जार और बरनियां लेकर आऊंगी। खाने-पीने की कोई भी चीज हमें प्लास्टिक में नहीं रखनी चाहिए।' मम्मी बोलीं। शालू ठहरकर बहुत देर तक सोचती रही। फिर उसने गूगल पर देखा कि कैसे पहले के लोग पत्तलों और दोनों का इस्तेमाल खाना खाने के लिए करते थे। 'मम्मी, क्या आप वो सारे प्लास्टिक के डिब्बे मुझे दे देंगी?'
Hindi kahani- रिटर्न गिफ्ट. Return gift best story in Hindi for kids. Best Moral Stories In Hindi For Class 1 to 8 Hindi Motivated Always
Return gift


शालू ने चहकते हुए मम्मी से पूछा। 'हां दे दूंगी। लेकिन तुम उनका क्या करोगी?' मम्मी ने पूछा। 'बस मम्मा आप दे देना।' ऐसा बोलकर शालू दौड़ते हुए अपने पापा के पास गई। बोली, 'पापा चलो मेहमानों की लिस्ट
बनाते हैं।' कुल मिलाकर तीस मेहमानों के नाम लिस्ट में दर्ज हुए। दूसरे दिन शालू ने मम्मी-पापा से कहा कि वो अपनी पार्टी में प्लास्टिक की चीजों का यूज नहीं करना चाहती।

Panchatantra moral Stories in Hindi for Student & kids. 

क्या वो पत्तों से बनी प्लेट और कटोरियां ले सकती हैं? मम्मी-पापा ने सहमति में सिर हिलाया। शालू बहुत खुश हुई। 'मुझे कुछ पौधे भी चाहिए।' उसने फिर से कहा। 'पौधों का क्या करोगी?' मम्मी ने पूछा। 'वो मैं बाद में बताऊंगी।' शालू ने जवाब दिया। उस दिन शालू बाजार से सारा सामान ले आई। उसने मम्मी से सारे प्लास्टिक के डिब्बे खाली करवाकर ले लिए।

उन्हें साफ करके शालू ने खूबसूरती से पेंट किया। फिर उसने अलग-अलग डिब्बों में अलग-अलग पौधों को लगा दिया। उसने अपने मम्मी-पापा को इन प्लास्टिक के डिब्बों को दिखाते हुए कहा कि वो इन पौधों को रिटर्न गिफ्ट में देगी। इससे प्लास्टिक का रियूज हो रहा है। पौधे हमारे पर्यावरण के लिए अच्छे होते हैं। मम्मी-पापा शालू की समझदारी देखकर बहुत खुश हुए।

आज शालू का जन्मदिन है। सारे मेहमान आ चुके हैं। शालू ने केक काटा। पत्तों की प्लेट्स और कटोरियों में खाना परोसा गया। पार्टी समाप्त होने पर जब सब जाने लगे तो शालू ने सबको प्लास्टिक के डिब्बों में लगे पौधे गिफ्ट किए। उसने सबसे कहा कि वो कुछ कहना चाहती है।

Kids Moral Short Stories Collection for kids & students.

वह बोली, 'आज हमारे यहां आपने पत्तों की प्लेट्स में खाना खाया, क्योंकि हमने प्लास्टिक की डिस्पोजेबल प्लेट्स का इस्तेमाल नहीं किया। प्लास्टिक हमारी सेहत के लिए हानिकारक होता है। इससे कई तरह की बीमारियां होती हैं। इसलिए मैं आपसे अनुरोध करती हूं
कि आप सब भी प्लास्टिक का इस्तेमाल खाने-पीने की चीजों में न करें।

मैंने प्लास्टिक के डिब्बों का इस्तेमाल करके यह खूबसूरत पॉट बनाए हैं। आप भी इसी तरह प्लास्टिक का रियूज कर सकते हैं, जितने हो सके पौधे लगाएं ताकि हमारा पर्यावरण शुद्ध और स्वच्छ रहे। सबने शालू की बात बहुत ध्यानपूर्वक सुनी और उसकी समझदारी की तारीफ की। सबको शालू का दिया हुआ रिटर्न गिफ्ट बहुत पसंद आया।